AAIYE PRATAPGARH KE LIYE KUCHH LIKHEN -skshukl5@gmail.com

Saturday, 5 October 2013

सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयाः








श्रद्धा सुमन अर्पित करू
मन में ले विश्वास
समस्त भव बाधा हरो
सर पर रख कर हाथ |
आशा

2 comments:

Surendra shukla" Bhramar"5 said...

माँ अम्बे सब का कल्याण करें
सुन्दर प्रार्थना
भ्रमर ५

Asha Saxena said...

टिप्पणी हेतु आभार
आशा