AAIYE PRATAPGARH KE LIYE KUCHH LIKHEN -skshukl5@gmail.com

Friday, 9 August 2013

ईद और तीज साथ साथ

आज हरियाली तीज और ईद 
दौनों साथ आई हैं
जीवन में खुशियों का खजाना लाई हैं
सब हिलमिल त्यौहार मना रहे 
आपस में खुशियाँ बाँट रहे |
आशा


4 comments:

रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी इस प्रविष्टी का लिंक कल शनिवार (10-08-2013) को “आज कल बिस्तर पे हैं” (शनिवारीय चर्चा मंच-अंकः1333) पर भी होगा!
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Asha Saxena said...

सूचना हेतु धन्यवाद |
आशा

Surendra shukla" Bhramar"5 said...

आदरणीया आशा जी भाईचारा बना रहे मन मिला रहे ..खूबसूरत भाव ...सब को त्यौहार मुबारक....
भ्रमर ५

Asha Saxena said...

धन्यवाद सुरेन्द्र जी |
आशा